मीन राशि के लोगो का स्वभाव

 

मीन राशीमीन राशि के स्वामी बृहस्पति देव बनते हैं। बृहस्पति देव सोर मंडल के सबसे बड़े ग्रह होते हैं, इसी लिये इनको देवताओ के गुरु अर्थात देव गुरु भी कहा जाता है। ब्रहस्पति देव धर्म आध्यात्म और ज्ञान के कारक होते हैं।
इसी कारण मीन राशी वाले भी आध्यात्म, धर्म, ज्ञान, और शिक्षा के क्षेत्रों से जु़डे हुए मिलते हैं।
इस राशि के जातक धार्मिक होने के साथ-साथ बुद्धिमान भी होते हैं।
ये स्वभाव से भावुक और कला प्रेमी होते हैं।

 

ये उदार, दयालु और सबकी परवाह करने वाले होते हैं।ये अपनी आदर्शवादी दुनियामें रहते हैं।
और इस तरह अन्य लोगों के साथ सबसे बेहतर भावनात्मक संबंध स्थापित करते हैं। ये आसानी से किसी के विचारों को पढ़ सकते हैं।संवेदनशील और दूर की सोच रखने वाले होते हैं।

मीन राशि का प्रतीक चिह्न मछली का एक जोड़ा होता है। मीन एक जल राशि है । और इस राशि की विशेषता सहानुभूति और भावनात्मक क्षमता है। मीन राशि में जन्में जातक पूरे राशि चक्र में सबसे सहज होते हैं  इस राशि के जातक नए माहौल और नए विचारों में आसानी से घुल-मिल जाते हैं।

इनके व्यवहार में चंचलता हमेशा बनी रहती है। और ये बच्चों के साथ बच्चे और बड़ो के साथ बड़े बन जाते हैं।
मीन राशि वाले उदार दोस्ताना और अच्छे स्वाभाव के होते हैं । और दूसरों की भावनाओं के प्रति भी संवेदनशील होते हैं।
इन्हें किसी तरह की पाबंदी पसंद नहीं है। ये बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं।
लेकिन इन्हें किसी बात का अहंकार नहीं होता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *