मेष राशि वाले लोगो का स्वभाव

मेष राशि मेष राशि का स्वामी ग्रह मंगल देव बनते हैं । मंगल ग्रह जीवन में पराक्रम और उत्साह के कारक होते है। मेष राशि वाले जन्म जात योद्धा होते हैं। इनकी शारीरिक बनावट से  इनकी शक्ति का अंदाज़ा लगाया जा सकता हैं। इनका स्वामी मंगल अग्नि ग्रह हैं। यही कारण है कि मेश जातक तेजस्वी, दबंग, साहसी, और दॄढ इच्छाशक्ति वाले होते हैं। ये किसी से डरते नहीं हैं, यह दृढ़ संकल्पी, आत्मविश्वासी, उत्साही, आशावादी, ईमानदार, भावुक, उर्जावान, स्वाभाविक रूप से बहादुर और साहसी होते हैं

 

अगर कोई इन्हे दबाने की कोशिश करता हैं, तो ये क्रोधित हो जाते हैं, और उल्टा उसी पर हावी हो जाते हैं। यह हर कीमत पर अपने मान सम्मान की रक्षा करते हैं, कई बार अपने स्वाभिमान को बचाने के लिए अपना नुकसान भी कर लेते हैं। मेष राशि वाले कम आयु में ही बड़ो की तरह व्यवहार करने लगते हैं। कोई इन्हे छोटा और कमजोर समझे यह इन्हे बर्दाश नहीं होता। मेष राशि के लोग स्वतंत्र विचार वाले होते हैं, सही और गलत को लेकर इनका अपना दृष्टिकोण होता है।

 

मेष राशि वालो का व्यवहार पारदर्शी होता हैं, यह अच्छे लोगो के साथ बहुत अच्छे और बुरे लोगो के साथ बहुत बुरे होते हैं। यह जो सोचते हे साफ साफ बोल देते हैं। जो सही लगता हैं, वही करते हैं। मेष राशि वालों को छल कपट करना नहीं आता हैं। और यें किसी को धोखा देना पसंद नही करते हैं। मेष राशि वाले दोस्ताना होते हैं और सबसे अच्छे दोस्त साबित होते हैं। यह अपना फायदा नुकसान देखे बिना अपने दोस्तों की सहायता करते हैं, और दोस्ती निभाते हैं।  जिस कारण अक्सर लोग मेष राशि वालो के सीधेपन का फायदा उठा लेते हैं।इस राशि में पैदा हुए लोग आसानी से संवाद शुरू कर लेते हैं।

 

जीवन में आगे बढ़ते हुए संबंधों और परिचितों की एक बडी संख्या प्राप्त करते हैं। ऐसे लोग उनके साथ रहेंगे जो ऊर्जावान हैं, और लंबे समय तक साथ चलने के लिए इच्छुक हैं। ये लोग जीवन में स्वयं अपना रास्ता तय करते हैं। और जिम्मेदारियों और चुनोतियो से नहीं घबराते।मंगल देव मेष राशि वालो को उर्जा की भरपूर मात्रा उपलब्ध कराते हैं। यदि इनके सामने कोइ अड़चन आती हैं तो यह उसके हटने का इंतजार नहीं करते हैं , बल्कि बाधाओं को चीरते हुए अपना मार्ग बनाने की कोशिश करते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *